( ISSN 2277 - 9809 (online) ISSN 2348 - 9359 (Print) ) New DOI : 10.32804/IRJMSH

Impact Factor* - 6.2311


**Need Help in Content editing, Data Analysis.

Research Gateway

Adv For Editing Content

   No of Download : 30    Submit Your Rating     Cite This   Download        Certificate

महिला सशक्तिकरण में स्वयं-सहायता समूहों की भूमिका का अध्ययन

    1 Author(s):  SMT. MANPREET KAUR

Vol -  11, Issue- 6 ,         Page(s) : 314 - 319  (2020 ) DOI : https://doi.org/10.32804/IRJMSH

Abstract

किसी राष्ट्र व क्षेत्र का विकास उसकी उपलब्ध मानव-शक्ति की कार्यक्षमता, सामर्थ्य, गुणवत्ता एवं शिक्षा आदि बातों पर निर्भर करता है। महिलाआें का राष्ट्रीय विकास की गतिविधियों में अत्यन्त महत्वपूर्ण योगदान है। परन्तु भारत में महिला की स्थिति-सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक रूप से समान नहीं रही है। महिलाओं की स्थिति को सुधारने के लिए सरकार द्वारा समय-समय पर अनेक योजनाएं चलायी गईं, जिनमें से एक ‘‘महिला स्वयं-सहायता समूह’’ है। इस योजना का प्रमुख उद्देश्य महिलाओं को रोजगार उपलब्ध कराना एवं उनकी भागीदारी बढ़ाना है।

*Contents are provided by Authors of articles. Please contact us if you having any query.






Bank Details